You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

माईगव के अंतर्गत सभी समूह

सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, हिमाचल प्रदेश

सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग ने वर्ष 1954 में अपने अस्तित्व में आने से लेकर आज तक समय की हर चुनौती से निपटने के लिए अपने आप को हर प

इस समूह में गतिविधियां
रचनात्मक कोना

यह जगह आपको आपका रचनात्मक रुझान प्रस्तुत करने के लिए मंच प्रदान करती है जो भारतीय इतिहास में आपके योगदान को चिह्नित करेगा।

पर्यावरण और वैज्ञानिक प्रौद्योगिकी विभाग

हिमाचल प्रदेश, पर्यावरण और वैज्ञानिक प्रौद्योगिकी विभाग की स्थापना 13 अप्रैल, 2007 को हुई थी। जुलाई, 2014 को पर्यावरण, विज्ञान और

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग हिमाचल

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, हिमाचल प्रदेश राज्य में आईटी के विकास को आगे बढ़ाने की प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिए जनवरी, 2004 मे

आबकारी एवं कराधान विभाग, हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश आबकारी एवं कराधान विभाग प्रदेश में राजस्व जुटाने वाला एक प्रमुख विभाग है। विभाग द्वारा लागू विभिन्न कराधान और आबकार

इस समूह में गतिविधियां
हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड

हिमाचल में वर्ष 1948 के दौरान बिजली की आपूर्ति केवल तत्कालीन रियासतों की राजधानियों में ही उपलब्ध थी और उस समय कनेक्टेड लोड 500 क

इस समूह में गतिविधियां
हिमाचल सामान्य प्रशासन विभाग

सामान्य प्रशासन विभाग, सभी विभागों का एक केंद्र माना जाता है। इसे सरकार के पहले विभाग के रूप में आंका गया है। यह विभाग मुख्यमंत्र

वित्त विभाग

राज्य में वित्त से संबंधित सभी मामलों के लिए वित्त विभाग बनाया गया है। इस विभाग में राज्य बजट, संस्थागत वित्त, वेतन संशोधन, विनिय

हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम

राज्य के युवाओं को स्वरोजगार व रोजगार से जोड़ने हेतु सरकार ने हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम की स्थापना की है। इसके अंतर्गत केंद्र

ओपन-फोरम

मेरी सरकार का ओपन फोरम एक ऐसा मंच है जहाँ आप राष्ट्र संबंधी महत्वपूर्ण विषयों पर अपने सुझाव और विचार साझा कर सकते हैं। इस फोरम पर

हिमाचल प्रदेश पंचायती राज विभाग

हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज विभाग की स्थापना वैधानिक रूप में हिमाचल प्रदेश पंचायती राज अधिनियम, 1952 के प्रावधानों के तहत वर्ष

हिमाचल पर्यटन

हिमाचल प्रदेश में 19वीं सदी तक पर्यटन केवल तीर्थयात्रियों की एक सीमित आवाजाही तक ही सीमित था, जो पहाड़ियों के आसपास के कुछ आध्यात्